Air India Today Unveiled Its Comprehensive Transformation Plan With Identified Objectives Over The Next 5 Year – Air India: एयर इंडिया ने अगले पांच साल की योजना की तैयार, घरेलू बाजार में 30 प्रतिशत हिस्सेदारी का लक्ष्य

0
0
Advertisement

ख़बर सुनें

Advertisment
एयर इंडिया ने अगले 5 वर्षों के लिए तय किए गए उद्देश्यों के साथ अपनी व्यापक परिवर्तन योजना का अनावरण किया। कंपनी ने कहा कि एयर इंडिया घरेलू बाजार में अपनी बाजार हिस्सेदारी को कम से कम 30 फीसदी तक बढ़ाने का प्रयास करेगी, जबकि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में हिस्सेदारी महत्वपूर्ण रूप से बढ़ रही है। एयर इंडिया का लक्ष्य घरेलू बाजार में 30 प्रतिशत हिस्सेदारी रखना है और अगले पांच वर्षों में अपने अंतरराष्ट्रीय परिचालन को काफी मजबूत करना है।

अगले पांच वर्षों के लिए एक विस्तृत रोड मैप
टाटा के स्वामित्व वाली एयरलाइन ने कर्मचारियों से प्रतिक्रिया लेकर बदलाव की योजना बनाई है। 30 नए वाइड-बॉडी और नैरो-बॉडी एयरक्राफ्ट को शामिल करने की योजना बनाने वाले एयर इंडिया ने गुरुवार को ‘विहान.एआई’ (Vihaan.AI) की घोषणा की, जो अगले पांच वर्षों के लिए एक विस्तृत रोड मैप के साथ एक व्यापक परिवर्तन योजना है। योजना के तहत अपने नेटवर्क और बेड़े दोनों को नाटकीय रूप से विकसित करने, पूरी तरह से संशोधित ग्राहक प्रस्ताव विकसित करने, विश्वसनीयता और समय पर प्रदर्शन में सुधार, और प्रौद्योगिकी, स्थिरता और नवाचार में नेतृत्व की स्थिति लेने के साथ-साथ आक्रामक रूप से निवेश करने पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।  कंपनी ने कहा, विमानन नियामक डीजीसीए के ताजा आंकड़ों के मुताबिक जुलाई में एयर इंडिया की घरेलू बाजार हिस्सेदारी 8.4 फीसदी थी। एयर इंडिया के कर्मचारियों से व्यापक प्रतिक्रिया के बाद विकसित की गई योजना, पांच प्रमुख स्तंभों पर ध्यान केंद्रित करेगी – असाधारण ग्राहक अनुभव, मजबूत संचालन, उद्योग की सर्वश्रेष्ठ प्रतिभा, उद्योग नेतृत्व, और वाणिज्यिक दक्षता और लाभप्रदता।

एयरलाइन का तत्काल ध्यान मूल बातें तय करने और विकास (टैक्सी चरण) के लिए खुद को तैयार करने, अधिक मध्यम से दीर्घकालिक फोकस उत्कृष्टता के निर्माण और वैश्विक उद्योग लीडर बनने के लिए पैमाने स्थापित करने पर होगा। एयर इंडिया के एमडी और सीईओ कैंपबेल विल्सन ने कहा कि केबिन के नवीनीकरण, सर्विस करने योग्य सीटों और इन-फ्लाइट एंटरटेनमेंट सिस्टम जैसे क्षेत्रों में कई पहलों के साथ बदलाव पहले ही शुरू हो चुका है।

उन्होंने कहा कि हम समय पर प्रदर्शन को बढ़ाने के लिए सक्रिय रखरखाव और उड़ान कार्यक्रम को परिष्कृत कर रहे हैं। हमारे बेड़े के विस्तार में विभिन्न नेटवर्क जरूरतों को पूरा करने के लिए संकीर्ण और चौड़े आकार वाले दोनों विमानों का संयोजन शामिल होगा। एयरलाइन के वर्चुअल कम्युनिकेशन और एंगेजमेंट प्लेटफॉर्म वर्कप्लेस के जरिए ‘विहान.एआई’ योजना का अनावरण किया गया।  

विस्तार

एयर इंडिया ने अगले 5 वर्षों के लिए तय किए गए उद्देश्यों के साथ अपनी व्यापक परिवर्तन योजना का अनावरण किया। कंपनी ने कहा कि एयर इंडिया घरेलू बाजार में अपनी बाजार हिस्सेदारी को कम से कम 30 फीसदी तक बढ़ाने का प्रयास करेगी, जबकि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में हिस्सेदारी महत्वपूर्ण रूप से बढ़ रही है। एयर इंडिया का लक्ष्य घरेलू बाजार में 30 प्रतिशत हिस्सेदारी रखना है और अगले पांच वर्षों में अपने अंतरराष्ट्रीय परिचालन को काफी मजबूत करना है।

अगले पांच वर्षों के लिए एक विस्तृत रोड मैप

टाटा के स्वामित्व वाली एयरलाइन ने कर्मचारियों से प्रतिक्रिया लेकर बदलाव की योजना बनाई है। 30 नए वाइड-बॉडी और नैरो-बॉडी एयरक्राफ्ट को शामिल करने की योजना बनाने वाले एयर इंडिया ने गुरुवार को ‘विहान.एआई’ (Vihaan.AI) की घोषणा की, जो अगले पांच वर्षों के लिए एक विस्तृत रोड मैप के साथ एक व्यापक परिवर्तन योजना है। योजना के तहत अपने नेटवर्क और बेड़े दोनों को नाटकीय रूप से विकसित करने, पूरी तरह से संशोधित ग्राहक प्रस्ताव विकसित करने, विश्वसनीयता और समय पर प्रदर्शन में सुधार, और प्रौद्योगिकी, स्थिरता और नवाचार में नेतृत्व की स्थिति लेने के साथ-साथ आक्रामक रूप से निवेश करने पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।  कंपनी ने कहा, विमानन नियामक डीजीसीए के ताजा आंकड़ों के मुताबिक जुलाई में एयर इंडिया की घरेलू बाजार हिस्सेदारी 8.4 फीसदी थी। एयर इंडिया के कर्मचारियों से व्यापक प्रतिक्रिया के बाद विकसित की गई योजना, पांच प्रमुख स्तंभों पर ध्यान केंद्रित करेगी – असाधारण ग्राहक अनुभव, मजबूत संचालन, उद्योग की सर्वश्रेष्ठ प्रतिभा, उद्योग नेतृत्व, और वाणिज्यिक दक्षता और लाभप्रदता।

एयरलाइन का तत्काल ध्यान मूल बातें तय करने और विकास (टैक्सी चरण) के लिए खुद को तैयार करने, अधिक मध्यम से दीर्घकालिक फोकस उत्कृष्टता के निर्माण और वैश्विक उद्योग लीडर बनने के लिए पैमाने स्थापित करने पर होगा। एयर इंडिया के एमडी और सीईओ कैंपबेल विल्सन ने कहा कि केबिन के नवीनीकरण, सर्विस करने योग्य सीटों और इन-फ्लाइट एंटरटेनमेंट सिस्टम जैसे क्षेत्रों में कई पहलों के साथ बदलाव पहले ही शुरू हो चुका है।

उन्होंने कहा कि हम समय पर प्रदर्शन को बढ़ाने के लिए सक्रिय रखरखाव और उड़ान कार्यक्रम को परिष्कृत कर रहे हैं। हमारे बेड़े के विस्तार में विभिन्न नेटवर्क जरूरतों को पूरा करने के लिए संकीर्ण और चौड़े आकार वाले दोनों विमानों का संयोजन शामिल होगा। एयरलाइन के वर्चुअल कम्युनिकेशन और एंगेजमेंट प्लेटफॉर्म वर्कप्लेस के जरिए ‘विहान.एआई’ योजना का अनावरण किया गया।  

Advertisment

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here