Canada Swaminarayan Temple Vandalized Anti-india Slogans Written On Walls India Demands Action News In Hindi – Swaminarayan Temple: कनाडा में स्वामीनारायण मंदिर में तोड़फोड़, दीवारों पर भारत विरोधी नारे भी लिखे गए

0
0
Advertisement

ख़बर सुनें

Advertisment
कनाडा के टोरंटो में बीते मंगलवार को कुछ असमाजिक तत्वों द्वारा बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर में  तोड़फोड़ के बाद दीवारों पर भारत विरोधी नारे लिखे गए। इस घटना के बाद से वहां के हिंदू समुदाय में आक्रोश है और सरकार से सख्त कार्रवाई की मांग की गई है। कनाडा में भारतीय उच्चायोग ने स्वामीनारायण मंदिर में तोड़फोड़ की निंदा की है और कनाडा के अधिकारियों से घटना की जांच करने का आग्रह किया। भारतीय मूल के कनाडा के सांसद चंद्र आर्य ने कहा कि यह कोई अकेली घटना नहीं है। इससे पहले भी अन्य मंदिरों में नुकसान पहुंचाने की कोशिश की जा चुकी है।

सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा वीडियो
मंदिर को विरूपित करने के बाद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जहां दीवारों पर खालिस्तानी नारे देखे जा सकते हैं। अमर उजाला इस वीडियो की प्रामाणिकता की पुष्टि नहीं की है। ब्रैम्पटन दक्षिण की सांसद सोनिया सिद्धू ने इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए ट्वीट किया कि हम एक बहुसांस्कृतिक और बहु-धार्मिक समुदाय में रहते हैं जहां हर कोई सुरक्षित महसूस करने का हकदार है। जिम्मेदार लोगों को उनके कार्यों के परिणामों का सामना करने के लिए स्थित होना चाहिए।
india in canada 63228e8c9b927
ब्रैम्पटन के मेयर ने भी निराशा व्यक्त की
ब्रैम्पटन के मेयर पैट्रिक ब्राउन ने इस तरह के हमले पर निराशा व्यक्त की। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि कनाडा के जीटीए में इस तरह की नफरत का कोई स्थान नहीं है। आइए आशा करते हैं कि जिम्मेदार अपराधियों को जल्द से जल्द न्याय के कटघरे में लाया जाएगा। 
 

विस्तार

कनाडा के टोरंटो में बीते मंगलवार को कुछ असमाजिक तत्वों द्वारा बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर में  तोड़फोड़ के बाद दीवारों पर भारत विरोधी नारे लिखे गए। इस घटना के बाद से वहां के हिंदू समुदाय में आक्रोश है और सरकार से सख्त कार्रवाई की मांग की गई है। कनाडा में भारतीय उच्चायोग ने स्वामीनारायण मंदिर में तोड़फोड़ की निंदा की है और कनाडा के अधिकारियों से घटना की जांच करने का आग्रह किया। भारतीय मूल के कनाडा के सांसद चंद्र आर्य ने कहा कि यह कोई अकेली घटना नहीं है। इससे पहले भी अन्य मंदिरों में नुकसान पहुंचाने की कोशिश की जा चुकी है।

सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा वीडियो

मंदिर को विरूपित करने के बाद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जहां दीवारों पर खालिस्तानी नारे देखे जा सकते हैं। अमर उजाला इस वीडियो की प्रामाणिकता की पुष्टि नहीं की है। ब्रैम्पटन दक्षिण की सांसद सोनिया सिद्धू ने इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए ट्वीट किया कि हम एक बहुसांस्कृतिक और बहु-धार्मिक समुदाय में रहते हैं जहां हर कोई सुरक्षित महसूस करने का हकदार है। जिम्मेदार लोगों को उनके कार्यों के परिणामों का सामना करने के लिए स्थित होना चाहिए।

india in canada 63228e8c9b927
ब्रैम्पटन के मेयर ने भी निराशा व्यक्त की

ब्रैम्पटन के मेयर पैट्रिक ब्राउन ने इस तरह के हमले पर निराशा व्यक्त की। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि कनाडा के जीटीए में इस तरह की नफरत का कोई स्थान नहीं है। आइए आशा करते हैं कि जिम्मेदार अपराधियों को जल्द से जल्द न्याय के कटघरे में लाया जाएगा। 

 

Advertisment

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here