Congress Leader P Chidambaram Dig At Bjp Said Wholesale Buyer Will Buy Nearly All Mlas In India One Day – P Chidambaram: चिदंबरम का भाजपा पर निशाना, कहा- थोक खरीदार एक दिन भारत के करीब सभी विधायकों को खरीद लेंगे

0
0
Advertisement

ख़बर सुनें

Advertisment

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधते हुए गंभीर आरोप लगाए। गोवा में कांग्रेस के आठ विधायकों के भाजपा में शामिल होने को लेकर सत्ताधारी दल पर निशाना साधते हुए पी चिदंबरम ने बुधवार को कहा कि 2014 के बाद से, भारतीय बाजार में एक “थोक खरीदार” है और एक दिन, वह खरीदार लगभग सभी विधायकों को खरीद लेगा और देश के मतदाताओं का मजाक उड़ाएगा।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने गोवा में कांग्रेस के उन तीन विधायकों की भी सराहना की जो अपने आठ सहयोगियों के साथ सत्ताधारी भाजपा में शामिल नहीं हुए। चिदंबरम ने कहा कि इन तीन विधायकों ने भगवान, पार्टी, मतदाताओं और सिद्धांतों के प्रति “दृढ़ निष्ठा” का परिचय दिया है।

पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत सहित तटीय राज्य के 11 कांग्रेसी विधायकों में से आठ बुधवार को भाजपा में शामिल हो गए, जिससे विपक्षी दल को गहरा धक्का लगा है। 40 सदस्यीय प्रदेश विधानसभा में कांग्रेस के अब सिर्फ तीन विधायक – कार्लोस फरेरा, यूरी अलेमाओ और अल्टोन डी कोस्टा बचे हैं।

लगातार कई ट्वीट कर चिदंबरम ने कहा, “गोवा की राजनीति का अभिशाप विधायकों की ‘खरीदारी’ है। 2014 के बाद से, भारतीय बाजार में एक थोक खरीदार है। एक दिन, थोक खरीदार भारत के लगभग सभी विधायकों को खरीद लेंगे और भारत के मतदाताओं का मजाक उड़ाएंगे। फिर, मतदाता क्या करेंगे?”

चिदंबरम इस साल की शुरुआत में हुए गोवा विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ पर्यवेक्षक थे। उन्होंने कहा कि “एक पार्टी दिग्गजों को मैदान में उतार सकती है। नए चेहरों को मैदान में उतार सकती है। यह शिक्षित उम्मीदवारों को मैदान में उतार सकती है। यदि वे जीत जाते हैं और थोक खरीदार उन्हें किसी भी कीमत पर ‘खरीद’ लेते हैं, तो पार्टी क्या कर सकती है?”

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जब तक गोवा के लोग “बिके हुए” विधायकों के खिलाफ विद्रोह नहीं करते, तब तक वे पिछले दो दशकों से उनके साथ रहे अभिशाप को मिटा नहीं सकते। इससे पहले एक ट्वीट में, चिदंबरम ने कहा, “कार्लोस फरेरा, यूरी अलेमाओ और अल्टोन डी कोस्टा माननीय विधायकों की श्रेणी में हैं और गर्व के साथ पार्टी के साथ खड़े हैं। मैं उन्हें भगवान, उनकी पार्टी, उनके मतदाताओं और उनके सिद्धांतों के प्रति उनकी दृढ़ निष्ठा के लिए सलाम करता हूं।” उन्होंने कहा, “भगवान और गोवा के लोग उन्हें आशीर्वाद दें।”

बता दें कि जनवरी में कांग्रेस उम्मीदवारों ने विधानसभा चुनाव से पहले गोवा में एक मंदिर, एक चर्च और एक दरगाह में वफादारी की शपथ ली थी। इससे पहले जुलाई 2019 में, गोवा कांग्रेस के 10 विधायक भाजपा में शामिल हो गए थे।

औपचारिक रूप से भगवा पार्टी में शामिल होने से कुछ घंटे पहले, आठ कांग्रेस विधायक – दिगंबर कामत, माइकल लोबो, दलीला लोबो, राजेश फलदेसाई, केदार नाइक, संकल्प अमोनकर, एलेक्सो सिक्वेरा और रुडोल्फ फर्नांडीस को एक तस्वीर में मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत के साथ बातचीत करते देखा गया था, जो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो गया। सावंत के साथ बैठक में अलेमाओ, डी कोस्टा और फरेरा मौजूद नहीं थे।

विस्तार

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधते हुए गंभीर आरोप लगाए। गोवा में कांग्रेस के आठ विधायकों के भाजपा में शामिल होने को लेकर सत्ताधारी दल पर निशाना साधते हुए पी चिदंबरम ने बुधवार को कहा कि 2014 के बाद से, भारतीय बाजार में एक “थोक खरीदार” है और एक दिन, वह खरीदार लगभग सभी विधायकों को खरीद लेगा और देश के मतदाताओं का मजाक उड़ाएगा।


पूर्व केंद्रीय मंत्री ने गोवा में कांग्रेस के उन तीन विधायकों की भी सराहना की जो अपने आठ सहयोगियों के साथ सत्ताधारी भाजपा में शामिल नहीं हुए। चिदंबरम ने कहा कि इन तीन विधायकों ने भगवान, पार्टी, मतदाताओं और सिद्धांतों के प्रति “दृढ़ निष्ठा” का परिचय दिया है।

पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत सहित तटीय राज्य के 11 कांग्रेसी विधायकों में से आठ बुधवार को भाजपा में शामिल हो गए, जिससे विपक्षी दल को गहरा धक्का लगा है। 40 सदस्यीय प्रदेश विधानसभा में कांग्रेस के अब सिर्फ तीन विधायक – कार्लोस फरेरा, यूरी अलेमाओ और अल्टोन डी कोस्टा बचे हैं।

लगातार कई ट्वीट कर चिदंबरम ने कहा, “गोवा की राजनीति का अभिशाप विधायकों की ‘खरीदारी’ है। 2014 के बाद से, भारतीय बाजार में एक थोक खरीदार है। एक दिन, थोक खरीदार भारत के लगभग सभी विधायकों को खरीद लेंगे और भारत के मतदाताओं का मजाक उड़ाएंगे। फिर, मतदाता क्या करेंगे?”

चिदंबरम इस साल की शुरुआत में हुए गोवा विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ पर्यवेक्षक थे। उन्होंने कहा कि “एक पार्टी दिग्गजों को मैदान में उतार सकती है। नए चेहरों को मैदान में उतार सकती है। यह शिक्षित उम्मीदवारों को मैदान में उतार सकती है। यदि वे जीत जाते हैं और थोक खरीदार उन्हें किसी भी कीमत पर ‘खरीद’ लेते हैं, तो पार्टी क्या कर सकती है?”

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जब तक गोवा के लोग “बिके हुए” विधायकों के खिलाफ विद्रोह नहीं करते, तब तक वे पिछले दो दशकों से उनके साथ रहे अभिशाप को मिटा नहीं सकते। इससे पहले एक ट्वीट में, चिदंबरम ने कहा, “कार्लोस फरेरा, यूरी अलेमाओ और अल्टोन डी कोस्टा माननीय विधायकों की श्रेणी में हैं और गर्व के साथ पार्टी के साथ खड़े हैं। मैं उन्हें भगवान, उनकी पार्टी, उनके मतदाताओं और उनके सिद्धांतों के प्रति उनकी दृढ़ निष्ठा के लिए सलाम करता हूं।” उन्होंने कहा, “भगवान और गोवा के लोग उन्हें आशीर्वाद दें।”

बता दें कि जनवरी में कांग्रेस उम्मीदवारों ने विधानसभा चुनाव से पहले गोवा में एक मंदिर, एक चर्च और एक दरगाह में वफादारी की शपथ ली थी। इससे पहले जुलाई 2019 में, गोवा कांग्रेस के 10 विधायक भाजपा में शामिल हो गए थे।

औपचारिक रूप से भगवा पार्टी में शामिल होने से कुछ घंटे पहले, आठ कांग्रेस विधायक – दिगंबर कामत, माइकल लोबो, दलीला लोबो, राजेश फलदेसाई, केदार नाइक, संकल्प अमोनकर, एलेक्सो सिक्वेरा और रुडोल्फ फर्नांडीस को एक तस्वीर में मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत के साथ बातचीत करते देखा गया था, जो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो गया। सावंत के साथ बैठक में अलेमाओ, डी कोस्टा और फरेरा मौजूद नहीं थे।

Advertisment

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here