Mohali Video: Why Are Boys And Girls Putting There Bathing Videos On The Website? – Mohali Video: मोहाली कांड की तरह खुद से अश्लील वीडियो बनाकर अपलोड कर रहे लड़के-लड़कियां, क्या है इसकी वजह?

0
0
Advertisement

ख़बर सुनें

Advertisment
मोहाली के चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो बनाने और फिर उसे वायरल करने के मामले में जांच तेज हो गई है। इस मामले में अब तक तीन आरोपी पकड़े जा चुके हैं। आरोपी छात्रा पर हॉस्टल की लड़कियों का वीडियो बनाकर अपने दोस्तों के पास भेजने का आरोप है।  

पुलिस इस मामले में जांच कर रही है कहीं ये वीडियो पोर्न वेबसाइट पर तो नहीं डाले गए? आखिर छात्राओं के अश्लील वीडियो बनाने का मकसद क्या था? पड़ताल में सामने आया है कि बड़ी संख्या में युवा लड़के और लड़कियां खुद से अपने पोर्न वीडियो बनाकर वेबसाइट पर अपलोड करने लगे हैं। इसके पीछे का कारण जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे। आइए जानते हैं… 
 
बैन के बाद भी अश्लील वेबसाइट देखने वाले नहीं घटे 
 साइबर सिक्योरिटी विशेषज्ञ अमित मुखर्जी कहते हैं, ‘साल 2018 में केंद्र सरकार के आदेश के बाद 827 पोर्न साइट्स को बंद किया गया। इस आदेश के बाद कहा जा रहा था कि अब भारत में पूरी तरह से पोर्न देखना लोग बंद कर देंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। आज भी अलग-अलग तरह से पोर्न साइट चल रही हैं और भारत में इन्हें देखने वालों की संख्या दुनिया के कई देशों से कहीं अधिक है।’

अमित आगे कहते हैं, ‘केवल विदेशी पोर्न नहीं, बल्कि अब देश में भी पोर्न फिल्में बनने लगी हैं और उसे बड़े पैमाने पर वेबसाइट पर अपलोड किया जाता है। पहले ये काम मॉडल या फिल्मों में काम करने की चाहत रखने वाले युवक और युवतियां करते थे जो किसी तरह अपने करियर में आगे नहीं बढ़ पाते थे। लेकिन अब सामान्य कॉलेज और स्कूल जाने वाले लड़के-लड़कियां भी इसमें शामिल हो गए हैं।’
अमित बताते हैं कि ये लड़के-लड़कियां अपने आम मोबाइल से खुद की या फिर अपने दोस्तों की अश्लील वीडियो बनाते हैं और फिर उसे तमाम वेबसाइट पर अपलोड कर देते हैं। अब बहुत सारी पोर्न वेबसाइट ऐसी आ चुकी हैं, जिनमें ये लड़के-लड़कियां अपना अकाउंट बनाते हैं। इनके वीडियो देखने के लिए लोगों को पैसा देना पड़ता है। टीवी चैनल्स और ओटीटी प्लेटफॉर्म की तरह यूजर्स अलग-अलग पोर्न साइट के अकाउंट का सब्सक्रिप्शन लेते हैं। जिस अकाउंट का सब्सक्रिप्शन लेते हैं, वहां उन्हें उस लड़के या लड़की के पोर्न वीडियो देखने को मिल जाएंगे। इन देशी पोर्न वीडियो को विदेशों में भी खूब देखा जाता है। इसी के चलते पोर्न वीडियो अपलोड करने वाले को काफी अच्छे पैसे मिल जाते हैं।
 
तीन तरह से बनाए जा रहे पोर्न वीडियो

1. डेटिंग एप का सहारा: पोर्न वीडियो बनाने वाले युवा अब डेटिंग एप का सहारा लेकर नए लोगों को अपने साथ जोड़ने लगे हैं। ऐसे लोग स्कूल-कॉलेज जाने वाले लड़के-लड़कियों को आसानी से अपना शिकार बनाते हैं। इन लड़के और लड़कियों को पैसा ऑफर करते हैं और उनके साथ शारीरिक संबंध बनाते हुए वीडियो तैयार कर लेते हैं। इनमें गे और लेस्बियन संबंध भी होते हैं। कई बार ऐसा भी होता है कि अगर कोई शारीरिक संबंध नहीं बनाना चाहता है तो उसे नशीला पदार्थ देकर ये सब गुपचुप तरीके से कर लिया जाता है। फिर उसे पोर्न साइट पर डालकर कमाई करते हैं। 
 
2. फेक प्रोफाइल बनाकर वीडियो कॉल के जरिए: इसके कई मामले सामने आ चुके हैं। जब फेक प्रोफाइल बनाकर अश्लील वीडियो बनाए जाते हैं। ऐसे मामलों में फेक प्रोफाइल के जरिए युवक या युवती से सोशल मीडिया पर जुड़ा जाता है। फिर उनसे बातचीत बढ़ाई जाती है। बाद में न्यूड वीडियो कॉल करने के लिए कहा जाता है। इस दौरान न्यूड होने पर कॉल रिकॉर्ड कर ली जाती है। लड़के या लड़की की सारी हरकतें रिकॉर्ड हो जाती हैं और फिर उसे इस तरह के पोर्न साइट्स पर अपलोड कर दिया जाता है। अच्छे-अच्छे परिवार से लड़के-लड़कियां इसका शिकार हो रहे हैं। कई बार जाल में फंसने वाले को ब्लैकमेल भी किया जाता है। उनसे पैसों की डिमांड होती है। बड़े-बड़े पदों पर बैठे आईएएस-आईपीएस तक इस तरह के ट्रैप पर फंस चुके हैं। 
 
3.जानबूझकर बनाते हैं : इस तरह के मामले भी सामने आ चुके हैं, जब पैसों के लिए लोग खुद से खुद का वीडियो बनाने लगे हैं। खुद के नहाते हुए या अन्य तरह के अश्लील हरकतें करते हुए वीडियो बनाते हैं और फिर उसे पोर्न वेबसाइट पर अकाउंट बनाकर उसे अपलोड कर देते हैं। ऐसा करने वाले ज्यादातर लोगों की उम्र 15 से 35 साल के बीच होती है। इनमें लड़के और लड़कियां दोनों शामिल होते हैं। ये लोग अपने वीडियो का प्रचार-प्रसार भी ट्विटर और फेसबुक के जरिए करते हैं। यहां तक बहुत सारे व्हाट्सएप ग्रुप भी इसके लिए बनाए जाते हैं। ऐसे लड़के और लड़कियों का इंस्टाग्राम और यूट्यूब चैनल भी होता है। यहां भी ये अलग-अलग तरह के वीडियो डालते हैं। जो लोग इनके पोर्न साइट का सब्सक्रिप्शन नहीं लेते हैं, वो यहां जुड़ जाते हैं।  
 
मोहाली मामले में कई वीडियो मिले? 
चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में छात्राओं के वीडियो वायरल के मामले में मोहाली पुलिस की जांच में बड़ी पोल खुली है। पहले एसएसपी ने कहा था कि आरोपी ने केवल अपना ही वीडियो बनाया और दोस्त को भेजा। अब पुलिस ने कोर्ट में कहा है कि वीडियो बनाने वाली छात्रा ने खुद का और एक अन्य छात्रा का वीडियो बनाया था। वीडियो में दूसरी छात्रा का चेहरा नहीं दिख रहा है। पुलिस सूत्रों के अनुसार, गिरफ्तार छात्रा के मोबाइल से 12 से भी अधिक वीडियो मिले हैं। आरोपी के फोन का लोकल डाटा रिकवर होने के बाद ये वीडियो सामने आए हैं। 
 
किन धाराओं में आरोपी छात्रा को गिरफ्तार किया गया है?
आरोपी छात्रा को पुलिस ने रविवार को ही  गिरफ्तार किया। आरोपी खुद उसी यूनिवर्सिटी में एमबीए की छात्रा है।  इस मामले में चंडीगढ़ पुलिस ने आईपीसी की धारा 354-C और आई टी एक्ट की धारा 66 E के तहत एफआईआर दर्ज की है। ये धाराएं लड़की या महिला को गलत तरीके से और छिप कर फिल्माने पर लगाई जाती है। आरोपी छात्रा के अलावा दो अन्य आरोपी भी पकड़े गए हैं, जिन्हें ये वीडियो भेजे जाते थे। दोनों को हिमाचल प्रदेश के शिमला से पकड़े गए हैं।

विस्तार

मोहाली के चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो बनाने और फिर उसे वायरल करने के मामले में जांच तेज हो गई है। इस मामले में अब तक तीन आरोपी पकड़े जा चुके हैं। आरोपी छात्रा पर हॉस्टल की लड़कियों का वीडियो बनाकर अपने दोस्तों के पास भेजने का आरोप है।  

पुलिस इस मामले में जांच कर रही है कहीं ये वीडियो पोर्न वेबसाइट पर तो नहीं डाले गए? आखिर छात्राओं के अश्लील वीडियो बनाने का मकसद क्या था? पड़ताल में सामने आया है कि बड़ी संख्या में युवा लड़के और लड़कियां खुद से अपने पोर्न वीडियो बनाकर वेबसाइट पर अपलोड करने लगे हैं। इसके पीछे का कारण जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे। आइए जानते हैं… 

 

Advertisment

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here